July 13, 2024 |

BREAKING NEWS

गोवर्धन पूजा कब मनाई जाएगी एवं सोमवती अमावस्या कब तक है मुहूर्त एवं पूजा विधि

Media With You

Listen to this article

 

वृंदावन 13 नवंबर पंडित राधेश्याम कौशल ने मीडिया विद यू को जानकारी देते हुए बताया कि श्री गोवर्धन पूजा का समय पत्रांक अनुसार कल शुरू होगा वैसे स्थिति और समय कअनुसार दीपावली के बाद यह त्यौहार मनाया जाता था लेकिन अब की बार अमावस्या का लग्न सोमवार दोपहर 12:00 तक माना गया है इसलिए श्री गोवर्धन पूजा का महोत्सव कल अर्थात 14 नवंबर को मनाया जाएगा पंचांग के अनुसार निम्न तिथि एवं समय और मुहूर्त की जानकारी दी गई हैसबसे पहले घर के आंगन में गोबर से गोवर्धन का चित्र बनाएं। इसके बाद रोली, चावल, खीर, बताशे, जल, दूध, पान, केसर, फूल और दीपक जलाकर गोवर्धन भगवान की पूजा करें। कहा जाता है कि इस दिन विधि विधान से सच्चे दिल से गोवर्धन भगवान की पूजा करने से सालभर भगवान श्री कृष्ण की कृपा बनी रहती है श्री गणेशाय नम:
जय श्री मन नारायण
गोबर्धन पूजा कल 14 को रहेगी
बिशेष नीचे पढें दौज की जानकारी ……..*दिव्य संस्कार सेवा संस्थान*
धार्मिक बिषयों की सम्पूर्ण व्यवस्था**श्री संवत 2080*
**संवत नाम – पिंगल*
**शाके 1945*

**ऋतु* – हेमन्त

रवि दक्षिणायने दक्षिण गोले

*महीना* – कार्तिक

*पक्ष-* कृष्ण पक्ष

*तारीख* 13-11-2023

*वार* सोमवार

*दिशाशूल* -पूर्वदिशा

*पंचक* नहीं हैं

*सूर्योदय* 06:42 Mathura
*सूर्यास्त* 17:26

*आज का पंचांग*
*राहुकाल* 07:30 –09:00

*तिथि* सोमवार ,अमावस्या 14:56 तक ,महावीर निर्वाण जैन ,संवत प्रारंभ ,महर्षिदयानन्द पुण्य तिथि ,पुष्करमेला आरम्भ ,कार्तिकी अमावस्या ,सर्वार्थ सिद्धि योग

—————————————-
*कल का पंचांग*
*तिथि*- शुक्ल पडवा 14:36 तक ,अन्नकूट ,गोवर्धन पूजा ,,बलि पूजा ,द्यूतक्रीडा,कार्तिकादि नववर्ष प्रारंभ ,नेपाली संवत प्रारंभ ,महाकाली यात्रा ,नेहरू जयंती
*राहुकाल** 15:00 से 16:30
—————————————
पक्ष के प्रमुख पर्व त्यौहार

गोवर्धन पूजा प्रतिपदा की समाप्ति 14 :36 पर है शास्त्र का निर्देश है सूर्योदयानन्तर पडवा 9 मुहूर्त से कम या अधिक है तो चाहे चन्द्र दर्शन हो जावे परन्तु स्थूल चन्द्र दर्शन न मानकर इसी दिन अन्नकूट ,बलि पूजा ,गोवर्धन पूजा करना चाहिये ,इस वर्ष कार्तिक शुक्ल पडवा नौ मुहूर्त से अधिक है अत: मंगलवार 14 नबम्बर को गोवर्धन पूजा मान्य है !
भाई दौज :-
दूज दोनों दिन अपराह्न व्यापिनी हो तो दूसरे दिन यम द्वितीया मनायी जाता है
अत: 15 तारीख बुधवार को भाई  दूज_________________________

*ध्यान रहे सत्य को पराजित करने का कोई तरीका नहीं है*
_________________________
*श्री दिव्य संस्कार सेवा संस्थान*
संस्था में उपलब्ध सेवाऐं
*ज्योतिष*
जन्म पत्रिका बनाना ,देखना
कुंडली मिलान ,सभी तरह के मुहूर्त ,शादी विवाह मुहूर्त आदि

*कर्मकांड*
देव पूजन ,रूद्राभिषेक पित्रपूजन
16संस्कार ,मंत्रजाप,नव व्यापार ,गृहप्रवेश ,कालसर्प दोष
आदि-आदि
*प्रवचन*
उठावनी , गऱूण पुराण ,व अन्य

*संगीत*
जागरण ,रामायण,
सुन्दर काण्ड,
भजन संध्या ,शिव विवाह
श्रीमद भागवत …….आदि

*वास्तु*
भवन निर्माण ,व्यापारिक स्थान की वास्तु स्थिति, व नक्शा बनाना व अन्य सभी

व अन्य सभी धार्मिक विषयों की एक ही स्थान पर प्रमाणिक व व्यापक व्यवस्था के साथ :-

पंडित राधेश्याम कौशल
बृजवासी
9719953741whatsapp
,8630496984
Email- divyasanskarsewa@gmail.


Media With You

हमारी एंड्राइड न्यूज़ एप्प डाउनलोड करें

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

What's app your name and number

What's app your name and number

Leave A Reply

Your email address will not be published.